Type Here to Get Search Results !

CSC News Updates:- सीएससी आईडी, आधार, बैंक बीसी के नाम पर लोगों से लूट करने वाले तीन लोगों को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है!

 हाल ही में, दिल्ली पुलिस ने सीएससी आईडी, आधार और बैंक बीसी सेवाएं प्रदान करने के नाम पर लोगों को लूटने वाले तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपी उन लोगों को निशाना बना रहे थे जो इन सेवाओं से अच्छी तरह वाकिफ नहीं थे और उनकी गाढ़ी कमाई लूट रहे थे। पुलिस ने लोगों को इस तरह की सेवाओं का लाभ उठाने के दौरान सतर्क रहने और ऐसी किसी भी घटना की तुरंत अधिकारियों को सूचना देने की चेतावनी दी है।



पुलिस के मुताबिक आरोपी पिछले कुछ महीनों से नजफगढ़ इलाके में सक्रिय था. उन्होंने एक नकली सीएससी (कॉमन सर्विसेज सेंटर) कार्यालय स्थापित किया था और लोगों को अपनी सेवाओं का लाभ उठाने का लालच दे रहे थे। फिर वे व्यक्ति के आधार विवरण और अन्य व्यक्तिगत जानकारी के लिए पूछेंगे और उन्हें बैंक बीसी (बिजनेस कॉरेस्पोंडेंट) योजना के तहत बैंक खाता खोलने सहित विभिन्न सेवाएं प्रदान करने का वादा करेंगे।

एक बार जब उनके पास व्यक्ति की व्यक्तिगत जानकारी होती, तो आरोपी इन सेवाओं को प्रदान करने के लिए बड़ी रकम की मांग करता। पीड़ित राशि का भुगतान करेंगे, लेकिन सेवाएं कभी प्रदान नहीं की जाएंगी। इसके बाद आरोपी अपना फोन बंद कर देते थे और पीड़ितों को सदमे की स्थिति में छोड़कर गायब हो जाते थे।

आरोपियों के खिलाफ कई शिकायतें दर्ज होने के बाद पुलिस को घोटाले का पता चला। एक टीम गठित की गई और जांच के बाद तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने आरोपियों के पास से कई फर्जी आईडी, आधार कार्ड और बैंक पासबुक बरामद किए हैं।

पुलिस ने लोगों को ऐसी सेवाओं का लाभ उठाने के दौरान सतर्क रहने और किसी भी व्यक्तिगत जानकारी या धन को सौंपने से पहले सेवा प्रदाता की प्रामाणिकता को सत्यापित करने की चेतावनी दी है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि वे ऐसे किसी भी मामले की सूचना तुरंत अधिकारियों को दें और ऐसे घोटालों का शिकार न हों।


यह घटना एक बार फिर लोगों को अजनबियों के साथ अपनी व्यक्तिगत जानकारी साझा करने से जुड़े जोखिमों के प्रति जागरूक होने की आवश्यकता पर प्रकाश डालती है। जबकि कई वैध सेवाओं के लिए व्यक्तिगत जानकारी की आवश्यकता होती है, यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि सेवा प्रदाता किसी भी जानकारी को सौंपने से पहले वास्तविक हो। लोगों को किसी भी सेवा के नियमों और शर्तों को पढ़ने के लिए भी समय निकालना चाहिए और वे जो भी प्राप्त कर रहे हैं उसे पूरी तरह से समझे बिना किसी भी चीज में जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए।

अंत में, तीन आरोपियों की गिरफ्तारी इस तरह के घोटालों पर अंकुश लगाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, लेकिन यह लोगों को व्यक्तिगत जानकारी की आवश्यकता वाली किसी भी सेवा का लाभ उठाते समय सतर्क और सतर्क रहने की आवश्यकता की याद भी दिलाती है। जोखिमों के बारे में जागरूक होकर लोग अपनी सुरक्षा कर सकते हैं और ऐसे घोटालों का शिकार होने से बच सकते हैं।

भारत के सभी राज्यों से संबधित और बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करेंताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन  छूटे

 

Join Social Network Groups

Join Telegram Group

Join Facebook Page

Join WhatsoApp Groups

Join Twitter Page

Instagram Page

Subscribe YouTube Channel

Like LinkedIn Page

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads