Type Here to Get Search Results !

PM Vishwakarma Yojana 2024 | प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू

Name of Service:-Pradhan Mantri Vishwakarma Yojana 2024
Post Date:-13/01/2024
Beneficiary:-राज्य के मजदूर
Apply Mode:-Online/ Offline
Scheme Name:-प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना
Objective:-आर्थिक सहायता प्रदान करना
Who Can Apply?देश के सभी शिल्पकार या कारीगर
Plan Budget:-13000 करोड़ रु के बजट का प्रावधान
Started By:-मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
Post Type:-Sarkari Yojana/ Govt Scheme, Service
Department:-Ministry of Micro,Small & Medium Enterprises
Short Information:-Pradhan Mantri Vishwakarma Yojana सरकार द्वारा अगस्त 2023 में शुरू की गई है। कारीगरों और शिल्पकारों के लिए यह योजना शुरू की गई है। इस योजना के बारे में मैं आपको डिटेल में जानकारी देने वाला हूँ इसके लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

Pradhan Mantri Vishwakarma Yojana

PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana – सरकार द्वारा विश्वकर्मा समुदाय  के लिए साल 2023 के बजट में नई  योजना की शुरुआत हेतु घोषणा की गई थी। इस योजना के तहत विश्वकर्मा समुदाय की 140 जातियों को कवर किया जाना था। इस योजना के तहत विश्वकर्मा समुदाय को सस्ता ऋण उपलब्ध कराने के साथ ही और भी कई सुविधाएं दी जानी थी। 

PM Vishwakarma Yojana 2023

आज जिस योजना के बारे में हम बात कर रहे हैं उसका नाम है “पीएम विश्वकर्मा कौशल योजना” जिसकी शुरुआत की घोषणा “वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा” की गई थी। आखिर इस योजना में क्या खास है? और विश्वकर्मा समुदाय को इस योजना का लाभ क्यों लेना जरूरी है? साथ ही इस योजना में आवेदन कैसे करें? इन्हीं सब सवालों से संबंधित जवाब आज हम आपको इस लेख के माध्यम से देने वाले है। अगर आप भी जानना चाहते हैं तब हमारे साथ लेकर के अंत तक बने रहे।

Pradhan Mantri Vishwakarma Yojana क्या है?

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना की शुरुआत को लेकर घोषणा साल के दौरान की गई थी। इस योजना की घोषणा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा की गई थी। आप सभी को बता देना चाहते हैं कि इस योजना के तहत 140 विश्वकर्मा जातियों को लाभार्थी बनाया जाएगा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य जातीय समुदाय के हुनर को बाहर निकालने और उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करने के साथ ही उनके कौशल का विकास करना है। 

इस योजना के तहत आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु विश्वकर्मा जातियों के कौशल और परंपरागत कारीगर और शिल्प कारों को आगे बढ़ाने के लिए आर्थिक सहायता की घोषणा की गई है जिसके लिए पैकेज भी निर्धारित कर दिया गया है।

PM Vishwakarma के उद्देश्य क्या है?

कई बार जातियों का आर्थिक रूप से कमजोर होने की वजह से वह अपने कामकाजी क्षेत्र में सही से प्रशिक्षण हासिल नहीं कर पाते है। जिस वजह से उन्हें आगे चलकर समस्याओं का सामना करना पड़ता है। प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के तहत विश्वकर्मा जाति और समुदाय के लोगों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

साथ ही आर्थिक रूप से कमजोर समुदाय जिनके पास प्रशिक्षण हासिल करने का पैसा नहीं है या फिर जो कुशल कारीगर है और परंपरागत कारीगर है ऐसे लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी और विश्वकर्मा जाति के शिल्पकार को भी आगे बढ़ने में मदद की जाएगी। 

इस योजना के तहत विश्वकर्मा जाति और समुदाय के लोग आर्थिक रूप से मजबूत होंगे और उनका आर्थिक और सामाजिक विकास सुनिश्चित होगा। साथ ही वे देश की प्रगति में अपना अहम योगदान भी दे पाएंगे।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में लाभ एवं विशेषताएं

  • इस योजना का लाभ उन सभी जातियों को दिया जाएगा जिनका मुख्य रूप से विश्वकर्मा समुदाय से संबंध है। इसमें मुख्य रूप से बघेल, बड़ीगर, बग्गा, विधानी, भारद्वाज लोहार पंचाल कई अन्य जातियां आती है।
  •  इस योजना के तहत विश्वकर्मा जातियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा और उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे कि वह अपना रोजगार प्राप्त कर सके।
  •  इस योजना के तहत विश्वकर्मा जातियों के सामाजिक व आर्थिक विकास को सुनिश्चित किया जाएगा।
  •  इस योजना के तहत विश्वकर्मा जातियों को कम ब्याज पर ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा जिससे कि वहां देश की उन्नति में अपना योगदान दे सकें।
  • इस योजना के तहत सरकार द्वारा आर्थिक सहायता हेतु पॅकेज भी निर्धारित कर दिया गया है।
  •  इस योजना के तहत शिल्पकार और कुशल कारीगरों को बैंक से कनेक्ट किया जाएगा और उन्हें एमएसएमई के द्वारा भी जोड़ दिया जाएगा।
  •  इस योजना के तहत लाभार्थियों को 5% दर  से ₹200000 तक का लोन उपलब्ध करवाया जाएगा। इसके साथ ही उन्हें ₹500 का भत्ता की हर महीने प्रशिक्षण के दौरान प्रदान किया जाएगा।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में पात्रता

  • पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के तहत विश्वकर्मा समुदाय की 140 जातियां आवेदन के लिए पात्र होगी। 
  • योजना में आवेदन करने के लिए सभी जातियों के पास महत्वपूर्ण दस्तावेज होना आवश्यक है। 
  • इस योजना का लाभ केवल भारत के मूलनिवासी ही ले सकेंगे।
  • आवेदक का शिलकर अथवा कारीगर होना जरुरी है

योजना के मुख्य बिंदु

  • 18 पारंपरिक व्यवसाय शामिल
  • 13000 करोड़ रूपये का प्रावधान
  • शिल्पकार और कारीगरों को प्रमाणपत्र और आईडी कार्ड के जरिये पहचान मिलेगी
  • पहले चरण में 1 लाख रूपये तक की और दुसरे चरण में 2 लाख रूपये तक की सहायता महज 5% की ब्याज दर
  • योजना के तहत कौशल विकास प्रशिक्षण, टूलकिट लाभ, डिजिटल लेनदेन के लिए इंसेंटिव और मार्केटिंग सपोर्ट

किस किस को मिलेगा इस योजना का लाभ

  • लोहार
  • सुनार
  • मोची
  • नाई
  • धोबी
  • दरजी
  • कुम्हार
  • मूर्तिकार
  • कारपेंटर
  • मालाकार
  • राज मिस्त्री
  • नाव बनाने वाले
  • अस्त्र बनाने वाले
  • ताला बनाने वाले
  • मछली का जाला बनाने वाले
  • हथौड़ा और टूलकिट निर्माता
  • डलिया, चटाई, झाड़ू बनाने वाले
  • पारंपरिक गुड़िया और खिलौना बनाने वाले

Documents Required

  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • जाति प्रमाणपत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • आवेदक का जाति प्रमाण पत्र
  • आवेदक का मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • आवेदक का आधार कार्ड एवं पैन कार्ड
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो इत्यादि।
  • आवेदक का चालू मोबाइल नंबर एवं ईमेल आईडी
  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक को आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Online Apply NewRegister Now // Login
Only For CSC
Official NotificationClick Here
PM Vishwakarma YojanaClick Here
Bihar Nalkup Farm YojanaClick Here
Sahara Refund Online ApplyClick Here
Food Licence Online ApplyClick Here
Official WebsiteClick Here

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads