Type Here to Get Search Results !

BSSC CGL Exam Cencel Notice : बिहार सीजीएल परीक्षा होगी रद्द, आयोग ने जारी किया अर्जेंट नोटिस.

बिहार कर्मचारी चयन आयोग द्वारा आयोजित सीजीएल परीक्षा को रद्द करने को लेकर छात्रों ने बुधवार को पटना में जमकर विरोध प्रदर्शन किया. परीक्षा के पहले दिन से प्रश्न पत्र आउट होने के बाद दूसरे दिन भी कई तरह के मामले सामने आए. इसको लेकर छात्र परीक्षा हुई परीक्षा को रद्द करने की मांग कर रहे हैं.

BSSC CGL Exam Notice : बिहार सीजीएल परीक्षा होगी रद्द, आयोग ने जारी किया अर्जेंट नोटिस.


छात्रों ने पटना कॉलेज गेट से प्रदर्शन शुरू किया. छात्रों का कहना है कि BSSC CGL-3 सचिवालय सहायक की सभी शिफ्ट की परीक्षाओं को रद्द किया जाना चाहिए. छात्रों का आंदोलन पटना कॉलेज से शुरू होकर गांधी चौक, मुसल्लहपुर हाट, भिखना पहाड़ी, नया टोला, हथुआ मार्केट, गांधी मैदान जेपी गोलंबर होते हुए डाकबंगला चौराहा तक बढ़ेगा.

बता दें कि बीएसएससी परीक्षा की पहली शिफ्ट में ही परीक्षा शुरू होते ही पेपर लीक की जानकारी सामने आ गई थी. इसे लेकर गिरफ्तारी भी हुई जिसके बाद से छात्र सभी तीनो शिफ्ट की परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे हैं. छात्रों ने तीनो शिफ्ट की परीक्षाओं में धांधली होने का दावा भी किया.

BSSC CGL Exam Notice : बिहार सीजीएल परीक्षा होगी रद्द, आयोग ने जारी किया अर्जेंट नोटिस.


लगभग 9 लाख उम्‍मीदवार इस भर्ती परीक्षा में शामिल हुए हैं. उम्‍मीदवारों का कहना है कि परीक्षा रद्द कर पुन: परीक्षा आयोजित की जानी चाहिए ताकि सभी को एक फेयर चांस मिल सके.

यहां भी पढ़े :- बिहार सचिवालय परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर प्रदर्शन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बिहार कर्मचारी चयन आयोग (Bihar Staff Selection Commission) ने जारी प्रेस नोट में अभ्यर्थियों को भरोसा दिलाया है कि परीक्षा की सुचिता और स्वक्षता तथा अभ्यार्थियों का हित आयोग के लिए सर्वोपरि है. आयोग ने कहा है कि परीक्षार्थियों का हित सुनिश्चित करना उसका मुख्य दायित्व है. प्रेस नोट के माध्यम से आयोग ने कहा है कि उसके मुताबिक पेपर लीक की खबरें केवल अफवाह है. आयोग ने माना है कि ऐसा केवल भ्रम इसलिए फैलाया जा रहा है कि कुछ लोगो का स्वार्थ सिद्ध हो सके. आयोग ने 3 दिनों का समय दिया है. अगर इस बीच पेपर लीक से संबंधित कोई पुख्ता सबूत मिलता है तो आगे परीक्षा रद्द किया जाना संभव है.

EOU को भी भेज सकते हैं पुख्ता प्रमाण :

आयोग की तरफ से कहां गया है कि पेपर लीक प्रमाण या सबूत आर्थिक अपराध इकाई को भी भेजा भेजा जा सकता है. ताकि आर्थिक अपराध इकाई द्वारा उसकी जांच और कार्रवाई की जा सके. आयोग की तरफ से बताया गया है कि कुछ असामाजिक तत्व द्वारा अफवाह फैलाई जा रही है. ऐसी अफवाह पर ध्यान नहीं दिया जाये और किसी के बहकावे में ना आया जाए. अगर अनियमितता हुई है और किसी के पास साक्ष्य है तो आयोग कार्रवाई करने के लिए तैयार है.

भारत के सभी राज्यों से संबधित और बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार

और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े.

(अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें,

ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन  छूटे)

ऐसे जमा करा सकते हैं सबूत :

आयोग ने नोटिस जारी कर कहा, ‘सीजीएल पीटी परीक्षा 2022 के दूसरे व तीसरे चरण की परीक्षा के प्रश्न पत्रों के लीक होने की भी अफवाहें संज्ञान में आ रही है। इस परीक्षा से जुड़े परीक्षार्थियों व आम लोगों से अनुरोध है कि इस परीक्षा के दूसरे व तीसरे चरण के प्रश्न पत्रों के लीक होने के संबंध में जिस किसी के पास भी प्रमाण / साक्ष्य उपलब्ध हों, तो उन्हें बिहार कर्मचारी चयन आयोग, पटना को अपने पूर्ण पता, मोबाइल नंबर सहित देते हुए आयोग के ईमेल आईडी [email protected] पर या पंजीकृत डाक द्वारा तीन दिनों के अंदर भेज सकते हैं ताकि उसकी सूक्ष्मता व गहराई से जांच कर आवश्यक आगे की कार्रवाई की जा सके।

भारत के सभी राज्यों से संबधित और बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार

और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े.

(अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें,

ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन  छूटे)

Join Social Network Groups

Join Telegram Group

Join Facebook Page

Join WhatsApp Groups

Join Twitter Page

Instagram Page

Subscribe YouTube Channel

Like LinkedIn Page



Top Post Ad

Below Post Ad

Ads