Type Here to Get Search Results !

Ration Dealer Complaint: राशन डीलर अनाज देने से करे मना या वजन में हो गड़बड़ी, तुरंत घुमाएं ये नंबर

नई दिल्ली,19 जुलाई 2022,(अपडेटेड 19 जुलाई 2022, 1:52 PM IST)

Ration Card Dealer Complaint Process: सरकारी वेबसाइट पर जाकर आप अपने राज्य के हिसाब से हेल्पलाइन नंबर खोज सकते हैं. इन नंबरों पर कॉल करके आप आपने डीलर की शिकायत करा सकते हैं. शिकायत दर्ज होने के बाद डीलर के खिलाफ मामले की सरकार जांच कराएगी और अगर उसे दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

Ration Dealer Complaint: राशन डीलर अनाज देने से करे मना या वजन में हो गड़बड़ी, तुरंत घुमाएं ये नंबर

देश में आबादी के एक बड़े हिस्से को सरकार की ओर से सब्सिडी पर राशन (Subsidized Ration) मुहैया कराया जाता है. फूड सिक्योरिटी (Food Security) का लक्ष्य पाने के लिए सरकार कम दाम पर लोगों को अनाज देती है. गरीब लोगों को यह मदद राशन की दुकान के जरिए दी जाती है.हालांकि कई बार इसमें अनियमितता के मामले सामने आते हैं. लोग शिकायत करते हैं कि उन्हें राशन नहीं मिला या अगर मिला तो उसका वजन ठीक नहीं है. सरकार ने इन शिकायतों को गंभीरता से लिया है. राशन दुकान चलाने वाले लोगों की ऐसी अनियमितताओं की शिकायत आप आसानी से कर सकते हैं. इसके लिए सरकार ने कई हेल्पलाइन नंबर (Ration Helpline Number) जारी किए हैं.दरअसल, कोरोना महामारी के बाद सरकार ने गरीब आबादी की मदद के लिए मुफ्त अनाज देने की योजना 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (Pradhan Mantri Gareeb Kalyan Ann Yojana)' की शुरुआत की. इस योजना के तहत अब भी देश की लगभग आधी आबादी को बिना किसी पैसे के अनाज मिल रहा है. इस योजना में सरकार लाभार्थियों को चावल, गेहूं, दाल और चीनी दे रही है. इस योजना के आने के बाद ऐसी कई शिकायतें आईं कि राशन दुकानदार लाभार्थी को अनाज देने से मना कर दिए और उसे ब्लैक में किसी अन्य को बेच दिए. इस तरह के मामले बढ़ने के बाद सरकार ने राज्यों के हिसाब से हेल्पलाइन नंबर जारी किए.


सरकारी वेबसाइट https://nfsa.gov.in/ पर राज्यवार हेल्पलाइन नंबरों की लिस्ट दी गई है. इस वेबसाइट पर जाकर आप अपने राज्य के हिसाब से हेल्पलाइन नंबर खोज सकते हैं. इन नंबरों पर कॉल करके आप आपने डीलर की शिकायत करा सकते हैं. शिकायत दर्ज होने के बाद डीलर के खिलाफ मामले की सरकार जांच कराएगी और अगर उसे दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. दोषी पाए जाने पर उसे न सिर्फ डीलरशिप से हाथ धोना पड़ सकता है, बल्कि जुर्माने से लेकर जेल तक की सजा का सामना भी करना पड़ सकता है.


आप जिस राज्य में रहते हैं और वहां के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके डीलर के खिलाफ शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

State

Helpline No.

आंध्रप्रदेश:

1800-425-2977

अरुणाचल प्रदेश:

03602244290

असम:

1800-345-3611

बिहार:

1800-3456-194

छ्त्तीसगढ़:

1800-233-3663

गोवा:

1800-233-0022

गुजरात:

1800-233-5500

हरियाणा:

1800-180-2087

हिमाचल प्रदेश:

1800-180-8026

झारखंड:

1800-345-6598, 1800-212-5512

कर्नाटक:

1800-425-9339

केरल:

1800-425-1550

मध्यप्रदेश:

1800-22-4950

महाराष्ट्र:

1800-22-4950

मणिपुर:

1800-345-3821

मेघालय:

1800-345-3670

मिजोरम:

1860-222-222-789, 1800-345-3891

नागालैंड:

1800-345-3704, 1800-345-3705

ओडिशा:

1800-345-6724 / 6760

पंजाब:

1800-3006-1313

राजस्थान:

1800-180-6127

सिक्किम:

1800-345-3236

तमिलनाडु:

1800-425-5901

तेलंगाना:

1800-4250-0333

त्रिपुरा:

1800-345-3665

उत्तर प्रदेश:

1800-180-0150

उत्तराखंड:

1800-180-2000, 1800-180-4188

पश्चिम बंगाल:

1800-345-5505

दिल्ली:

1800-110-841

जम्मू:

1800-180-7106

कश्मीर:

1800-180-7011

अण्डमान और निकोबार द्वीप समूह:

1800-343-3197

चण्डीगढ़:

1800-180-2068

दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव:

1800-233-4004

लक्षद्वीप:

1800-425-3186

पुदुच्चेरी:

1800-425-1082

चंपारण रिजल्ट के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें|

 

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads